शिरीष खरे

शिरीष पिछले दो दशकों से भारतीय गांवों और हाशिये पर छूटे भारत की तस्वीर बयां कर रहे हैं, इन दिनों इनकी पुस्तक 'एक देश बारह दुनिया' चर्चा में है

More Articles

‘खेतों में जानवर खा रहे सब्जियां, हम क्या खाएं!’

कोल्हापुर: महाराष्ट्र के पश्चिम की ओर कर्नाटक से सटे कोल्हापुर जिला मुख्यालय से करीब 20 किलोमीटर दूर हसुर गांव में नामदेव पाटिल ने इस बार अपने खेत के आधा एकड़ खेत हिस्से में भिंडी और...

गायत्री मंत्र से कोरोना का उपचार और भारत में विज्ञान का भविष्य

कोरोना महामारी से जब जीवनरक्षक दवाइयों और ऑक्सीजन की कमी से देश भर में रिकार्ड मौते हो रही हैं और हर दिन साढ़े तीन से चार लाख लोग संक्रमित हो रहे हैं तब सरकार से...

कोरोना-काल में रैलियों के बिना क्यों नहीं हो सकते चुनाव?

अमेरिका में पिछले साल नवंबर में राष्ट्रपति पद के लिए मतदान हुए थे, जिसमें चुनाव के दौरान तक कोरोना वायरस का कहर और जनता के स्वास्थ्य की उपेक्षा रिपब्लिक पार्टी के उम्मीदवार और तत्कालीन राष्ट्रपति...

दुनिया के बेशकीमती पत्थर अलेक्जेंड्राइट के लिए आदिवासी किसानों की जमीन पर कब्जा, न मुआवजा, न नौकरी

गरियाबंद/रायपुर: अविभाजित मध्यप्रदेश और वर्तमान छत्तीसगढ़ के एक गांव में किसानों के खेतों में बरसों पहले बेशकीमती पत्थरों के खजाने का पता चला था। तब इन जमीनों का अधिग्रहण करने के लिए किसानों को अच्छे...

बंगाल में चुनाव आयोग की भूमिका पर क्यों उठ रहे सवाल?

पिछले 9 अप्रैल को चुनाव आयोग ने पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी को केंद्रीय सुरक्षा बलों पर गलत बयानबाजी के आरोप में दूसरी बार नोटिस भेजा। बता दें कि ममता बनर्जी केंद्रीय सुरक्षा बलों...

भारतीय मिश्रित अर्थव्यवस्था में एपीएमसी मंडियां ढहीं तो किन्हें नफा, किन्हें नुकसान

पिछले कुछ दिनों से तीन नए कृषि कानूनों को लेकर देश से लेकर विदेश तक में हंगामा मचा हुआ है। नए कृषि कानूनों के विरोध में किसान लंबे समय से दिल्ली बॉर्डर पर लगातार धरना...

26 मार्च भारत बंद के बाद किसान आंदोलन

पिछली 26 मार्च को किसान आंदोलन को चार महीने पूरे होने के मौके पर संयुक्त किसान मोर्चा के आह्वान पर पांच राज्यों में चल रहे विधानसभा चुनाव वाले राज्यों को छोड़कर शेष भारत के लिए...

किसानों की बीजेपी पर वोट की चोट भला क्यों?

केंद्र की मोदी सरकार के कृषि क़ानूनों के ख़िलाफ़ किसान आंदोलन के 98वे दिन संयुक्त किसान मोर्चा ने एक बड़ी घोषणा की। घोषणा यह कि वह बीजेपी को वोट के ज़रिए चोट पहुंचाएगा। मोर्चा की...

एमएसपी पर सरकार के दावे और फसलों के लिए जैव-विविधता की दलील में कितना दम?

पिछली 9 फरवरी को वाणिज्य एवं उद्योग मंत्री पीयूष गोयल ने कहा कि देश में चल रही एमएसपी (न्यूनतम समर्थन मूल्य) प्रणाली पूरी तरह डब्ल्यूटीओ (वर्ल्ड ट्रेड ऑर्गनाइज़ेशन) के अनुरूप है. दरअसल, मंत्री से पूछा...

Discover

Trending

Indian gets 10 year imprisonment for illegal migration, family seeks help from Sushma

Kolkata: Shaikh Alimuddin, a 42-year-old migrant labour from Jajpur district’s Kaina village, in Odisha has been spending his days at a Baku prison in...

Asaram to spend his life in jail until death for raping a minor school girl

Jodhpur: Five years after being arrested for having raped a minor on pretext of exorcism, Jodhpur Scheduled Caste and Scheduled Tribe Court, gave a...

Poor Indians flee to villages as coronavirus measures take heavy toll

Shilpa Jamkhandikar, Prashant Waydande MUMBAI (Reuters) - Thousands of poor city migrants whose livelihoods have collapsed due to India’s coronavirus measures headed back to their...

Only certain people are afraid of seeing the truth of Babri Masjid demolition: Sunil Singh

Kolkata: Politician-turned filmmaker Sunil Singh, engages in a candid conversation with eNewsroom, about his film-- Game of Ayodhya, censorship and the bounty on him....

As community transmission starts, fear lingers about country’s weak rural healthcare

The last few weeks have witnessed a significant spike in Covid-19 cases in India taking the total number beyond 13 lakh. With two states,...